Wednesday, 22 January 2014

Career in व्यापार प्रबंधन (एमबीए)

Career in व्यापार प्रबंधन (एमबीए)

सकारात्मक / नकारात्मक पहलू

सकारात्मक 

कम्पनियां एमबीए पेशेवरों को नौकरी पर रखना पसंद करती हैं चूंकि इनमें प्रबंधन व प्रोफेशनल वातावरण में काम करने की क्षमता होती है.
नए व्यवसाय को शुरू करने के लिए भी एमबीए डिग्रीधारी लोगों की ज़रुरत पड़ती है चूंकि ये नए-नए बिजनेस मॉडल, टूल्स व रणनीतियों के बारे में जानकारी रखते हैं जो कि कंपनी के किसी भी कार्य की योजना बनाने, उसकी रणनीति बनाने एवं उसका निष्पादन करने में सहायक सिद्ध होती हैं.
दूसरी परास्नातक डिग्रियों एवं डिप्लोमा की तुलना में एमबीए डिग्रीधारी को कम्पनियाँ ज्यादा तनख्वाह देती हैं.

नकारात्मक

एमबीए छात्र शुरूआती दौर में ही बहुत उच्च वेतन की चाह रखते हैं जो कि कम्पनियाँ कभी-कभी पूरी नहीं कर पातीं हैं. इससे छात्रों को निराशा हाथ लगती है.
पिछले कुछ वर्षों में उच्च फीस पर एमबीए डिग्री कराने वाले बहुत निजी संस्थान लगभग हर गली-मोहल्ले में खुल गए हैं. ये संस्थान छात्रों को अच्छे पैकेज व अन्य लोक-लुभावन वादे करते हैं तथा बाद में पूरे नहीं कर पाते हैं.
चूंकि आईआईएम, एक्सएलआरआई व एफएमएस जैसे प्रतिष्ठित संस्थानों में सीटों की संख्या सीमित होती है अतः कई छात्र इनमें प्रवेश लेने के लिए बार-बार प्रयास करते हैं जिससे छात्रों का अमूल्य ही समय बर्बाद होता है.


for more details log on to http://wsmde.edu.in
find us on facebook http://www.facebook.com/wsmde
find us on twitter https://twitter.com/wsmde
find us on blogspot http://wsmde.blogspot.com   

find us on our official blog http://wordpress.wsmde.edu.in